CTET - केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा

CTET - केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा

CTET जिसे सेंट्रल टेस्ट एलिजिबिलिटी टेस्ट कहा जाता है, यह एक सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) द्वारा आयोजित केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा है, जो हर वर्ष लगभग 2 बार (एक बार जुलाई और दूसरी बार दिसंबर) में आयोजित की जाती है। यह परीक्षा स्कूलों में शिक्षकों की कमी को पूरा करने और शिक्षकों की गुणवत्ता को सुनिश्चित करने के उद्देश्य से आयोजित की जाती है, एक तरह से यह शिक्षकों के शिक्षण कौशल के मापन के लिए आयोजित एक शिक्षक पात्रता परीक्षा है।

CBSE के द्वारा इस परीक्षा के तहत शिक्षकों के शिक्षण की दक्षता, उनकी बुद्धिमता और शिक्षण योग्यता के साथ प्राथमिक और उच्च प्राथमिक स्तर पर आम चुनौतियों से निपटने में उनकी क्षमता का आकलन किया जाता है, और इस परीक्षा की मदद से उन्हें केंद्रीय विद्यालयों में नियुक्त किया जाता है।

CTET Levels | परीक्षा के स्तर

CTET परीक्षा 2 स्तरों पर आयोजित होती है, जिसमें पहला स्तर – CTET प्राइमरी लेवल तथा दूसरा स्तर CTET एलिमेंट्री लेवल होता है। इसलिए हर साल इस परीक्षा के 2 पेपर आयोजित होते हैं, दोनों स्तरों को उत्तीर्ण करने की चाह रखने वाले उम्मीदवारों को दोनों पेपरों में सम्मिलित होना पड़ता है, तथा परीक्षा अच्छे अंको से उत्तीर्ण करनी पड़ती है।

CTET Level -1 | सीटीईटी प्राइमरी स्तर

CTET लेवल -1 को प्राइमरी लेवल भी कहा जाता है, इसके लिए उम्मीदवारों को CTET पेपर -1 में बैठने की आवश्यकता होती है। CTET Level -1 परीक्षा उत्तीर्ण उम्मीदवारों को केंद्रीय विद्यालयों में कक्षा 1 से लेकर कक्षा 5 तक के विद्यार्थियों को पढ़ाने का मौका मिलता है।

इसके लिए न्यूनतम योग्यता निम्नलिखित है-

  • किसी भी मान्यता प्राप्त विद्यालय से अच्छे अंको के साथ 12th परीक्षा उत्तीर्ण
  • कम से कम diploma in Elementary Education (Deled) Course करें जो 2 वर्ष का होना अनिवार्य है।

CTET Level -2 | सीटीईटी एलिमेंट्री स्तर

CTET लेवल -2 को एलिमेंट्री लेवल भी कहा जाता है, इसके लिए उम्मीदवारों को CTET पेपर -2 में बैठने की आवश्यकता होती है। CTET Level -2 परीक्षा उत्तीर्ण उम्मीदवारों को केंद्रीय विद्यालयों में कक्षा 5 से लेकर कक्षा 8 तक के विद्यार्थियों को पढ़ाने का मौका मिलता है।

इसके लिए न्यूनतम योग्यता निम्नलिखित है-

  • किसी भी मान्यता प्राप्त स्कूल से 60% अंको के साथ 12वीं परीक्षा उत्तीर्ण।
  • 50% अंकों के साथ ग्रेजुएशन परीक्षा उत्तीर्ण
  • B.Ed (बैचलर ऑफ एजुकेशन) परीक्षा उत्तीर्ण

इसके अलावा जो उम्मीदवार कक्षा 1 से लेकर कक्षा 8 तक के स्कूलों में अध्यापक बनना चाहते हैं, उन्हें CTET पेपर -1 और CTET पेपर -2 दोनों परीक्षाएं देनी होंगी तथा उनके पास दोनों स्तरों के लिए शैक्षिणक योग्यता होनी चाहिए।

आयु सीमा: सीटीईटी के लिए योग्य होने के लिए आवेदक को भारत का नागरिक होना चाहिए, साथ ही इसके लिए कोई आयु सीमा का प्रतिबंध नहीं है, हालांकि, उम्मीदवार की आयु न्यूनतम 17 वर्ष होनी ही चाहिए।

CTET Exam से जुड़ी जानकारी

CTET परीक्षा की बात करें, तो इसके पेपर -1 और पेपर -2 में 150 प्रश्न पूछे जाते हैं, हालांकि दोनों का लेवल थोड़ा भिन्न होता है, प्रश्नों की प्रकृति वस्तुनिष्ठ होती है, अर्थात एक प्रश्न के लिए 4 विकल्प दिए गए होते हैं, इनमें से उम्मीदवार को 1 सही विकल्प का चुनाव करना होता है। इन सभी प्रश्नों को हल करने के लिए उम्मीदवारों को कुल 2.5 घंटे का समय दिया जाता है। इसमें निम्नलिखित विषयों से प्रश्न पूछे जाते हैं।

  • Child Development and Pedagogy (बाल विकास और शिक्षाशास्त्र)
  • Language I (भाषा -1)
  • Language II (भाषा -2)
  • Environmental Sciences (पर्यावरण विज्ञान)
  • Mathematics (गणित)
  • Science (विज्ञान)
  • Social Science (सामाजिक विज्ञान)

इस परीक्षा में उत्तीर्ण होने के लिए पात्रता निम्नलिखित है-

  • सामान्य वर्ग (General Category): सामान्य श्रेणी (अनारक्षित श्रेणी के उम्मीदवारों को परीक्षा उत्तीर्ण करने के लिए 150 में से 90 अंक 60% अंक प्राप्त करने होंगे।
  • एससी/एसटी (SC/ST Category): उम्मीदवारों को परीक्षा उत्तीर्ण करने के लिए 150 में से 82.5 अंक 55% प्राप्त करने होंगे
  • ओबीसी (OBC Category): सीटीईटी उत्तीर्ण करने के लिए उम्मीदवारों को 150 में से 82.5 अंक 55% प्राप्त करने होंगे।

CTET Validity क्या है?

CTET Validity की बात करें तो अब इसे बढ़ाकर आजीवन कर दिया गया है, पहले इसकी वैधता मात्र 7 साल थी, उम्मीदवारों को परीक्षा में सफल होने के 7 साल बाद फिर से परीक्षा में शामिल होना पड़ता था। इसके अलावा CTET प्रमाणपत्र प्राप्त करने के लिए एक व्यक्ति जितनी बार चाहे उतनी बार प्रयास कर सकता है, इस पर भी किसी भी प्रकार का कोई प्रतिबंध नहीं है।

CTET Exam Preparation Tips

CTET परीक्षा में उत्तीर्ण होना ज्यादा कठिन नहीं है, लेकिन आजकल प्रतियोगिता को देखते हुए इसमें अच्छे अंक लाना बेहद ही मुश्किल है, नीचे हमने CTET परीक्षा की तैयारी के कुछ टिप्स दिए हैं, जिनको फॉलो करके आप परीक्षा में बेहतर अंक प्राप्त कर सकते हैं।

कॉन्सेप्ट पढ़ें और ज्यादा से ज्यादा रिवीजन करें

यदि आप CTET परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त करना चाहते हैंज़ तो आपको CTET परीक्षा पैटर्न के अनुसार पढ़ाई करनी होगी, इसके अलावा आपने CTET के लिए अभी तक जो भी पढ़ा है, उसका रिवीजन ज्यादा से ज्यादा करें, ताकि उस टॉपिक से संबंधित प्रश्न परीक्षा में आपसे ना छूटे।

मॉक टेस्ट / पिछले साल के प्रश्न हल करें

अगर आपकी तैयारी परीक्षा के सिलेबस के अनुसार पूरी है, तो आप मॉक टेस्ट / प्रैक्टिस सेट या पिछले वर्ष के प्रश्नपत्रों को हल करना शुरू कर दें जिससे आपको प्रश्नपत्र के पैटर्न को समझने में मदद मिले और साथ ही आप यह जांच सकें कि आपकी परीक्षा की तैयारी कैसी है। इसके साथ ही CTET परीक्षा से पहले अपने अध्ययन के क्षेत्र की ताकत और कमजोरियों की पहचान करें और जिन विषयों में आपकी पकड़ कमजोर है उनपर ज्यादा ध्यान दें।

CTET FAQ – कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न

CTET Exam क्या है?

CTET एक शिक्षक पात्रता परीक्षा है, जो CBSE द्वारा आयोजित की जाती है। इसको उत्तीर्ण करके उम्मीदवार केंद्रीय विद्यालयों में शिक्षक बनने योग्य हो जाते हैं।

CTET December 2022 Exam Date क्या है?

CTET December 2022 Exam Date, 28 दिसंबर 2022 से लेकर 7 फरवरी 2023 तक है।

CTET परीक्षा साल में कितने बार आयोजित की जाती है?

CTET परीक्षा साल में सामान्यतः 2 बार, जुलाई तथा दिसंबर में आयोजित की जाती है।

क्या CTET परीक्षा को उत्तीर्ण करने वाला उम्मीदवार दुबारा CTET परीक्षा में शामिल हो सकता है?

जी हाँ, यदि कोई उम्मीदवार 1 बार CTET परीक्षा उत्तीर्ण कर चुका है, और वह दुबारा अच्छे अंको के लिए परीक्षा में शामिल होना चाहता है, तो वह शामिल हो सकता है, प्रयासों की सीमा पर किसी भी प्रकार की पाबंदी नहीं है।

क्या CTET Exam में नेगेटिव मार्किंग होती है?

नहीं, CTET परीक्षा में किसी भी प्रकार की नेगेटिव मार्किंग का प्रावधान नहीं है।

क्या CTET परीक्षा उत्तीर्ण होने के बाद उम्मीदवार को कोई सरकारी नौकरी मिल जाएगी?

नहीं, CTET एक प्रकार की योग्यता परीक्षा है, इसको उत्तीर्ण करने के बाद उम्मीदवार केंद्रीय विद्यालयों में निकलने वाली शिक्षक भर्ती के लिए योग्य हो जाते हैं।

CTET की वैधता कितनी है?

CTET की वैधता आजीवन के लिए है, जो पहले सिर्फ 7 वर्षों के लिए थी।

CTET परीक्षा का मोड क्या है?

CTET परीक्षा ऑनलाइन माध्यम में (CBT) आयोजित की जाती है।

CTET परीक्षा उत्तीर्ण करने के लिए न्यूनतम अहर्ता अंक क्या है?

CTET परीक्षा उत्तीर्ण करने के लिए न्यूनतम अहर्ता अंक अनारक्षित श्रेणी के लिए 90 (60%) तथा ओबीसी और अन्य श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए 82.5 (55%) है।